Bihar Now
ब्रेकिंग न्यूज़
Headlinesअन्यअपराधजीवन शैलीटैकनोलजीटॉप न्यूज़बिजनेसबिहारब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराष्ट्रीय

हत्या पर बरपा हंगामा, बिहार में महिलाएं महफूज कब ?

Advertisement

सवालों के घेरे में पुलिस की कार्यशैली !

समस्तीपुर में महिला की हत्या पर बबाल हुआ है.आक्रोशित लोगों ने शव के साथ एनएच 28 को सरदारगंज के पास करीब छह घंटे जाम कर रखा.ग्रामीणों और पुलिस के बीच भी नोंकझोंक हुई. 48 घंटे के अंदर अपराधियों की गिरफ्तारी के आश्वसन के बाद जाम को  समाप्त कराया गया.  दलसिंह सराय थाना क्षेत्र के भटगामा गांव में कल खेत में  महिला की अर्धनग्न स्थिति में लाश मिली..

जिले में इन दिनों बेलगाम बेखौफ अपराधी पुलिस को खुली चुनौती देते हुए लगातार आपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे है। वही पुलिस खुद को इन अपराधियों के सामने बेबस और लाचार महसूस कर रही है। एक के बाद एक महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार की घटनाओं के बाद मामले में पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं होने से नाराज लोग अब सड़क पर उतर आये है। जंहा लोगों में हर दिन हो रहे वारदातों से दहशत का माहौल है वही पुलिस की कार्यशैली को लेकर ख़ासा आक्रोश भी है।

Advertisement

दलसिंह सराय थाना क्षेत्र के जयजपट्टी की रहने वाली इंदु देवी का शव भटगामा गांव के पास चौर से मिलने के 24 घंटे बाद भी अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं होने से नाराज सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण सड़क पर उतर आये।

आक्रोशित लोगों ने एनएच 28 को सरदारगंज के पास करीब छह घंटे तक जाम रखा। इस दौरान आक्रोशित लोगों ने पुलिस प्रशासन और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाज़ी की। जाम की सुचना पर पहुँची पुलिस को भीड़ के आक्रोश का सामना करना पड़ा।

लोगों ने पुलिस के साथ धक्का मुक्की भी की। आक्रोशित लोग अपराधियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। लोगों का कहना है की कानून व्यवस्था बिल्कुल खत्म हो चुकी है। इस राज्य में माँ ,बेटी कोई भी सुरक्षित नहीं है।

 समस्तीपुर में पिछले कुछ दिनों के अंदर कई महिला की हत्या का मामला सामने आया ,लेकिन पुलिस अब तक किसी भी मामले को सुलझाने में सफल नहीं हो सकी है। बीते 1 दिसंबर को बांगड़ा थाना क्षेत्र के मुर्गियाचक गांव के पास 15 वर्षीय अज्ञात युवती का शव बरामद किया गया था। वही 3 दिसंबर को वारिसनगर थाना क्षेत्र के गोही के दमदरी चौर में मिली महिला की अधजली लाश मामले में भी पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी तो दूर अब तक शव की शिनाख्त तक नहीं कर सकी है। वही पुलिस के तरफ से लगातार सिर्फ कोड़ा आश्वासन ही दिया जा रहा है।

लगातार हो रही अपराधिक घटनाओं पर काबू पाना पुलिस के लिए बहुत बड़ी चुनौति है.ऐसे में देखना होगा कि आखिर पुलिस अपराधों पर अंकुश लगाने के साथ साथ लोगों का विश्वास कब तक वापस ला पाती है ?

जय राजपूत, बिहार नाउ, समस्तीपुर

 

Advertisement

Related posts

Breaking : दरभंगा के बाद अब पटना रेफर किए गए पप्पू यादव, बेहतर इलाज के लिए DMCH डॉक्टरों की टीम ने किया रेफर

Bihar Now

Breaking : विपक्षी एकता की बैठक से पहले नीतीश को बड़ा झटका… मांझी के बेटे ने नीतीश कैबिनेट से दिया इस्तीफा…

Bihar Now

इंसाफ की सुबह …

Bihar Now