Bihar Now
ब्रेकिंग न्यूज़
Headlinesअन्यजीवन शैलीटैकनोलजीटॉप न्यूज़बिहारब्रेकिंग न्यूज़

अतिक्रमण हटाने गए पुलिस का लोगों ने किया विरोध, पुलिस के द्वारा लाठीचार्ज में कई लोग घायल

Advertisement

बेगूसराय :जिला के छौड़ाही अंचल क्षेत्र के सांंवत पंचायत में गुरुवार को उच्च न्यायालय के आदेशानुसार वर्षो से अवैध कब्जा वाली भूमि को सैकड़ो की संख्या में सशस्त्र पुलिस बल के साथ प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट ने अवैध रूप से कब्जे वाली जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराया।

Advertisement

जानकारी के अनुसार अवैध रूप से कब्जेवाली भुमि को खाली कराने के दौरान पुलिस प्रशासन को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा. जिस दौरान पुलिस के साथ हुई नोकझोंक में एक बालक समेत एक महिला बेहोश हो गयी जिससे नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। मौक पर पहुंची पुलिस प्रशासन के साथ जिला से नियुक्त सर्वे कमीशनर कमल देव प्रसाद यादव के साथ पहुंचे पुलिस बल के टीम में शामिल अधिकारियों ने पहले अवैध कब्जाधारियों को समझाने की पूरी कोशिश की,लेकिन गरीब दलितों ने कहा कि हमलोग का उक्त जमीन पर लाखों का फसल लगा है कम से कम कुछ दिनों की और मोहलत दिया जाये ताकि जमीन पर लगाया गया गन्ना चीनी मिल को देंगे फिर विधिसम्मत कार्रवाई हो,लेकिन गरीबों की एक बात भी नहीं सुनी गयी।

अवैध कब्जेवाली भुमि पर लगे फसल को खाली कराने के लिये जेसीबी,ट्रैक्टर समेत आदि संसाधन की मदद ले जमीन में लगे फसल को बर्बाद कर खाली कराया गया. बताते चलें कि उक्त विवादित जमीन समस्तीपुर जिला अंतर्गत रोसड़ा निवासी देवकीनंदन के अपने दास्तावेज के आधार पर उच्च न्यायालय पटना में की गई अपील के आधार पर अवैध रूप से सांवत मौजे की जमीन पर दलितों द्वारा कब्जा के भुमि को मुक्त कराने से संबंधीत वाद दायर करने के आलोक में प्रशासन ने गुरुवार को छौराही अंचल क्षेत्र अंतर्गत अवैध रूप से कब्जा बाली जमीन को खाली कराने पहुंची थी।

अवैध कब्जेवाली भुमि को खाली कराने के दौरान प्रशासन से हुयी नोकझोंक में राम लखन पासवान का पुत्र बबलू कुमार,बंटु पासवान की  50 वर्षीय पत्नी काबो देवी पुलिस के पकड़ धकड़ में बेहोश हो गयी। दोनों को बेहोशी हालत में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छौड़ाही में भर्ती कराया गया.जहां इलाज कराया गया है.नियुक्त कमिश्नर श्री यादव ने बताया कि उक्त विवादित भूमि तकरीबन 5 बीघा से ऊपर है।

जिस जमीन पर कब्जा कर घर भी बना लिया गया था एवं शेष भाग में फसल लगाई गई थी। इस संबंध में उन्होंने बताया कि उच्च न्यायालय पटना के वाद संख्या1/17 के आदेश पर खाता नंबर 194 खेसड़ा 134,137,138,1178,945,952,954,955,990 और 991 पर कार्रवाई की गयी है।

मौके पर मंझौल के पुलिस निरीक्षक विभा कुमारी के नेतृत्व में छौराही सीओ सुमंतनाथ,बीडीओ प्रशांत कुमार ,थानाध्यक्ष ओमप्रकाश कुमार समेत भारी संख्या में महिला व पुरूष बल लगाया गया था।

मामला लंबित बिना नोटिस दिये ही जमींदार के पक्ष में की गयी कार्रवाई।

वहीं प्रमोद पासवान ने जानकारी देते बताया कि मामला उच्च न्यायालय में लंबित है.हमलोगों को नोटिस के रूप में कोई जानकारी नहीं दिया गया.प्रशासन एकाएक दल बल के साथ बेरहमी से तकरीबन हमारे लाखों के कीमत का फसल नुकसान किया है, और एक बच्चे सहित महिला को पीटकर बेहोश कर दिया है.आरोप है कि जमींदार का लठैत भी खाली कराने में शामिल था.हम लोगों के साथ जो जायदाती किया गया है.हम लोग उसके खिलाफ न्यायालय का दरवाजा खटखटायेंगें.बताया गया कि बंटू पासवान,महेश पासवान, बहादुर पासवान,प्रमोद पासवान,रामबली पासवान, शिवशंकर पासवान समेत दस व्यक्ति भूमि विवाद से जुड़े हैं.

Related posts

बारिश के बीच लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने को लेकर सड़क पर उतरी पुलिस…

Bihar Now

फिल्मी अंदाज में जदयू नेता की हत्या कर लाश लेकर मौके से फरार हुए अपराधी, सवालों के घेरे में पुलिस की मुस्तैदी !

Bihar Now

सुपौल में अपोलो डायग्नोस्टिक्स सेंटर का उद्घाटन…

Bihar Now

एक टिप्पणी छोड़ दो