Bihar Now
ब्रेकिंग न्यूज़
Headlinesअन्यअपराधटैकनोलजीटॉप न्यूज़बिहारब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराष्ट्रीय

जेल से चल रहा खौफ का खेल, जिम्मेदार कौन ?

Advertisement

बेगूसराय में एक बार फिर रंगदारी अपना पांव पसार रही है .इस बार भी जेल में बंद अपराधियों ने जेल से ही व्यवसायियों से लाखों रुपए रंगदारी की मांग की है । खास बात यह है कि इस बार अपराधियों ने मोबाइल के साथ साथ स्पीड पोस्ट के द्वारा भी व्यवसायियों को डरा धमकाकर पैसे की मांग की है । आलम यह है कि अब एक तरफ जहां व्यवसाई प्रशासन से सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं वहीं पलायन करने की भी बात कर रहे हैं।

क्या है पूरा मामला :
बेगूसराय के व्यवसाय इन दिनों दहशत के साए में जीने को विवश हैं और अपनी जान माल की सुरक्षा के लिए लगातार एसपी से गुहार लगा रहे हैं .

Advertisement

ताजा मामला जिले के वीरपुर थाना क्षेत्र की है जहां कई व्यवसायियों को जेल में बंद कुख्यात अपराधी गौतम बॉस ने स्पीड पोस्ट के माध्यम से तथा अपने गुर्गों के द्वारा फोन से बात करवा कर लाखों रुपए रंगदारी की मांग की है आलम यह है कि अब व्यवसाई समय से अपनी दुकानदारी भी नहीं कर पाते गौरतलब है कि बेगूसराय में दो स्वर्ण व्यवसायी से जेल में बंद कुख्यात अपराधी गौतम कुमार ने चिट्ठी और मोबाइल से 35 लाख रुपए की रंगदारी मांगी और नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी है ।

रंगदारी मांगने के बाद व्यवसायी दहशत में है। दहशत की वजह यह है कि रंगदारी मांगने वाला जेल में बंद अपराधी गौतम कुमार ने 28 मई 2019 को बीरपुर बाजार के ही किराना व्यवसाई पृथ्वी चौधरी को रंगदारी नहीं देने पर दिन के 1 बजे ना सिर्फ दुकान से अपहरण किया था बल्कि गांव के बाहर ले जाकर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी उसी मामले में गौतम अभी जेल में बंद हैं।

दरअसल वीरपुर थाना क्षेत्र के वीरपुर बाजार के स्वर्ण व्यवसाई राजेश साह और मनोज साह से जेल में बंद कुख्यात अपराधी गौतम कुमार ने 27 दिसंबर और 31 दिसंबर को चिट्ठी भेजकर 35 लाख रुपए की मांग की थी इसके बाद 3 जनवरी को फिर फोन से रंगदारी की मांग की गई थी।

गौतम कुमार ने दोनों व्यवसायी को रंगदारी नहीं देने पर पृथ्वी चौधरी के तरह अंजाम भुगतने की धमकी दी है जिस कारण व्यवसाई का परिवार दहशत में है । हालांकि इस मामले में तीन जनवरी को प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए जेल में बंद अपराधी गौतम से फोन पर व्यवसायी से बात कराने वाले अपराधी पुष्पेश कुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
बा
ऐसा नहीं कि व्यवसाई सिर्फ सुदूर इलाके में ही भय के साए में जीने को विवश हैं बरन शहर के पॉश इलाके के स्वर्ण व्यवसाई भी दहशत में हैं । इस बाबत शहर के स्वर्ण व्यवसाई जयराम दास बताते हैं कि पिछले वर्ष अपराधियों ने उनके घर के दरवाजे पर ही उनके भाई को गोली मार दी थी और अब फिर अपराधियों के द्वारा लिफाफे में दहशत भरा खत रखकर उनके दरवाजे पर फेंका गया है। जिसमें अपराधियों ने 25 लाख रुपए रंगदारी देने की मांग की थी और समय सीमा 5 जनवरी तक कहा था। जयराम दास बताते हैं कि इस संबंध में उन्होंने नगर थाने में शिकायत भी दर्ज कराई है ।ड़ा
क्ष
पुलिस की माने तो मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई शुरू कर दी है और इस मामले में एक अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है। साथ ही साथ पुलिस ने लगातार जेल में छापेमारी भी की और आरोपी गौतम बॉस से इस संबंध में पूछताछ भी की, लेकिन आरोपी गौतम ने इस मामले में अपनी संलिप्तता से इनकार किया है ….

पुलिस मोबाइल सर्विलांस एवं अन्य संसाधनों के द्वारा इस मामले की छानबीन में जुट गई है । पुलिस का दावा है कि जल्द ही संबंधित सभी अपराधियों की शिनाख्त कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

फिलहाल पुलिस भी यह मानती है कि यह कोई नया बाक्या नहीं बल्कि जेल के अंदर से रंगदारी और अपराध का संचालन पुरानी बात है । लेकिन पुलिस के द्वारा लगातार अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा भी जाता रहा है ।

धनंजय झा, बिहार नाउ, बेगूसराय…
कुंुु

Related posts

नीतीश कैबिनेट के मंत्रियों के बीच विभागों का हुआ बंटवारा, 8 मंत्रियों से चलेगी सरकार, देखिए पूरी लिस्ट !…

Bihar Now

बहादुरपुर प्रखण्ड के मनियारी पंचायत की मुखिया शकुंतला काजमी का देहांत…

Bihar Now

भागलपुर बम धमाके को लेकर पीएम मोदी ने की सीएम नीतीश से बात, जताया दुख….

Bihar Now