Bihar Now
ब्रेकिंग न्यूज़
Headlinesअन्यटैकनोलजीटॉप न्यूज़फोटो-गैलरीबिजनेसबिहारब्रेकिंग न्यूज़राष्ट्रीय

आफत की बारिश !

लगातार बारिश  से बिहार में 1975 जैसे हालात…

बिहार में अलग- अलग जगहों पर कुल 11 लोगों की डूबने से मौत…

Patna
Patna

बिहार में पिछले तीन दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश के चलते लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बारिश के चलते लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

पटना सहित अन्य जिलों में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है। पटना की सड़कें जलमग्न हो गई हैं। जिस तरह से बारिश हो रही है उससे पटना के हालात 1975 जैसे बनते दिख रहे हैं। मौसम विभाग ने भी राज्य में रेड अलर्ट जारी कर दिया है।

पिछले 24 घंटे से पटना में ही 158 मिमी बारिश हुई है, वहीँ बेगूसराय की बात करें तो यहाँ भी 132 मिमी बारिश हुई है। पीएमसीएच, बिहार विधानसभा परिसर, नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, एनआईटी सहित बहुत संस्थानों में जलजमाव होने से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।बारिश के चलते पूर्व सीएम सत्येंद्र नारायण सिन्हा,  BJP सांसद राजीव प्रताप रुडी, मंत्री नंदकिशोर के आवास के साथ मंत्री कृष्णनंदन वर्मा और विधायक नौशाद आलम के आवास में बारिश का पानी घुस गया है।  पटना के आसपास के जिलों सिवान, बक्सर, बिहारशरीफ, भोजपुर, वैशाली, गोपालगंज, छपरा, जहानाबाद, शेखपुरा का भी तेज बारिश से हाल बेहाल है। जिससे लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

मौसम विभाग के रेड अलर्ट जारी होने के बाद कई जिलों में सरकारी और प्राइवेट स्‍कूलों को बंद करने का आदेश जारी किया गया। इसी के साथ ही प्रशासन ने आंगनबाड़ी केंद्रों को भी बंद करने का निर्देश दिया है।

प्रशासन ने मुजफ्फरपुर में 28 से लेकर 30 सितंबर तक स्‍कूलों को बंद किया है। बारिश के चलते पटना, मुजफ्फरपुर सहित 14 जिलों में अलर्ट भी जारी कर दिया गया है।

बिहार में भारी बारिश के चलते ट्रेनों की रफ़्तार भी थम गई है। बारिश के चलते बिहार जाने वाली बहुत सी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। जिसके चलते यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

बारिश के चलते बिहार की यातायात से लेकर रेल व्यवस्था लगभग पूरी तरह से ठप्प हो गई है। राजधानी पटना की सड़कों पर पानी ही पानी दिखाई दे रहा है।

वहीँ पटना जंक्शन के कई प्लेटफार्म पर जहां लोगों की भीड़ जमा है, वहीं पटरियों पर पानी चढ़ जाने के चलते रेल परिचालन बाधित हो रहा है। बता दें जंक्शन से ट्रेनों को तीन पटरियों पर शिफ्ट कर के चलाया जा रहा है। भारी बारिश के कारण कई ट्रेनों को रद्द भी किया गया है, जिनमें एक्सप्रेस और पैसेंजर दोनों ट्रेनें शामिल हैं।
पिछले 48 घंटे से पटना में ही 158 मिमी बारिश हुई है, वहीँ बेगूसराय की बात करें तो यहाँ भी 132 मिमी बारिश हुई है। पीएमसीएच, बिहार विधानसभा परिसर, नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, एनआईटी सहित बहुत संस्थानों में जलजमाव होने से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मौसम विभाग ने इसको लेकर रेड अलर्ट भी जारी किया है। मौसम विभाग ने इसको लेकर रेड अलर्ट भी जारी किया है। वहीँ प्रशासन ने भी अपनी कमर कस ली है।
बिहार में लगातार हो रही बारिश के बीच कई जगहों पर पानी भर गया है। नदियाँ उफान पर हैं। उफनाती नदियों में नहाने से पूरे प्रदेश में 11 लोगों की डूबने से मौ’त हो गयी है। बताया जाता है कि मधुबनी में दो बहनों की मौ’त सड़क किनारे गड्ढे में जमा बारिश के पानी में डूबने से हो गई। ऐसी ही खबरें बेगूसराय से भी सामने आईं हैं।बेगूसराय में दो अलग घटनाओं में पांच बच्‍चों की मौ’त हो गई थी, जबकि आरा, कटिहार व जहानाबाद में भी डूबने की घटनाएं हुई थीं। बेगूसराय में पहली घटना लाखो थाना क्षेत्र में हुई, जबकि दूसरी घटना मंसूरचक में दोपहर बाद हुई। लाखो थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव में गड्ढे में डूबने से तीन बच्चों की मौ’त हो गई। हा’दसा स्कूल की छुट्टी के बाद खेल-खेल में गड्ढे में नहाने के दौरान हुआ।
आरा के टाउन थाना क्षेत्र अंतर्गत छोटकी सिंहनी पुल के निकट 14 वर्ष के किशोर की मौ’त डूबने से हो गई। उसकी पहचान नहीं हो पाई है, जबकि दूसरी घटना बड़हरा के गुंडी गांव के निकट हुई है। गुंडी गांव में बाढ़ के पानी में नहाने के लिए 18 वर्षीय जय प्रकाश महतो उतरे थे, लेकिन गहराई का अंदाजा नहीं रहा। डूबने से उनकी मौ’त हो गई। जहानाबाद में भी डूबने से एक युवक की मौत हो गई है।
कटिहार के सहजा पंचायत के अंतर्गत कास्तहाबर गांव निवासी मु. वहाब अली के दो वर्षीय पुत्र मु. इसराइल की बाढ़ के पानी मे डूबने से मौ’त हो गई। बिहार में मूस’लाधार बारिश के चलते लोगों का जीवन अ’स्त-व्य’स्त हो गया है। बारिश के चलते लोगों का घरों से बाहर निकलना भी मुश्किल होता जा रहा है। बिहार में बारिश के चलते पटना, मुजफ्फरपुर सहित 14 जिलों में अलर्ट भी जारी कर दिया गया है।
बिहार में मूसलाधार बारिश के चलते स्कूल बंद, CM नीतीश ने जारी किया अलर्ट । वही बिहार के कई जिलों में भारी बारिश के चलते प्रशासन ने स्कूलों को बंद करने का आदेश जारी कर दिया है। वहीँ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इसको लेकर अलर्ट जारी किया है।
मौसम विभाग की इस रिपोर्ट के अनुसार मुजफ्फरपुर, शिवहर, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, दरभंगा, समस्तीपुर, मधुबनी, पश्चिमी चंपारण सहित बिहार के 14 जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक इन जिलों में तेज गरज के साथ 21 सेमी तक बारिश होने की सम्भावना हैं। इसी को देखते हुए सीएम नीतीश कुमार ने भी आपदा प्रबंधन विभाग को अलर्ट मोड में रहने को कहा है। सीएम नीतीश शुक्रवार से ही इन सभी जिलों पर नजर रखे हुए हैं।

राजेश कुमार,बिहार नाउ

 

Related posts

DMCH शराब कांड में शराबबंदी कानून के धाराओ के तहत मामला दर्ज, DSP ने कहा वीडियो फुटेज में शामिल चेहरे का सत्यापन कर की जाएगी पूछताछ…

Bihar Now

कैमूर में ताजिया जुलूस के दौरान दो‌ पक्षों में बवाल… DM-SP ने संभाला मोर्चा, स्थिति नियंत्रित, अफवाह पर न दें ध्यान…

Bihar Now

बिहार में बेकाबू हुआ कोरोना, एक साथ मिले 404 नए मामले, आंकड़ा पहुंचा 11864..

Bihar Now

एक टिप्पणी छोड़ दो